See all those languages up there? We translate Global Voices stories to make the world's citizen media available to everyone.

कहांनियाँ परिचय Citizen Media

8 अगस्त 2014

लोगों के संघर्ष को आवाज दे रहा रेडियो संघर्ष

  तेंदू पत्ता के बोनस के लिए विरेन्द्र सिंह ने वन विभाग के लगभग सभी अधिकारियों के यहां आवेदन दिया लेकिन उनके आवेदन पर कोई...

7 अगस्त 2014

दक्षिण एशिया में अगले साल आ सकता है पहला डेंगू का टीका

Up to 100 million people across the world are infected with dengue each year. Will the vaccine finally stop the spread of the virus?

28 फरवरी 2014

हमारी नई वेबसाईट की जाँच में मदद करें: जीतें एक टी-शर्ट

वाशिंगटन यूनीवर्सिटी के छात्र हमारी नई और पुरानी वेबसाईट की उपयोगिता जाँचने में हमारी मदद कर रहे हैं। एक छोटा सा सर्वेक्षण पूरा करने में...

25 जनवरी 2014

सउदी अरब ने फिलिस्तिनी कवि को “नास्तिकता और लम्बे बालों” के कारण जेल में बंद किया

मोना करीम की रपट : फिलस्तीन के कवि अशरफ फयध नास्तिकता फैलाने और लम्बे बाल रखने के कारण सउदी जेल में हैं।

30 दिसम्बर 2013

कहानी-निर्माण करने वाली-मशीन-ऑडियोबू/कहानी-निर्माण करने वाली मशीन:ऑडियोबू

Rising Voices

एक सामाजिक, साझा करने वाला, आवाज संग्रह व उत्पादन करने वाली साईट, जिसने हर महीने डिजिटल कहानियाँ कहने में लाखों लोगों की मदद की है,...

4 नवम्बर 2013

विडियो: सउदी आदमी ने “बीबी से बात करने पर” कामगार की पिटाई की

एक प्रवासी श्रमिक की एक सऊदी आदमी द्वारा पिटाई के एक वीडियो द्वारा देश में श्रमिकों के शोषण के खिलाफ आक्रोश वायरस की तरह फैल...

9 अक्टूबर 2013

ब्लॉग एक्शन दिवस का विषय: मानवाधिकार

ब्लॉग एक्शन दिवस पर सन 2007 से ही दुनिया भर के ब्लॉगर्स को “कलम उठाने” की प्रेरणा मिलती है: एक दिन, एक विषय, हज़ारों स्वर।...

11 सितम्बर 2013

महिला सुरक्षा स्वंसेवक क्या भारत में बलात्कार को रोकने का उचित उत्तर हैं?

मुंबई में एक और महिला के सामूहिक बलात्कार की खबर से, भारत इन यौन अपराधों को रोकने के लिए एक रास्ता खोज रहा है। India,...

3 सितम्बर 2013

अपनी कहानी स्टोरीमेकर द्वारा सुनाएँ और जीते €1,000

Rising Voices

अपनी कहानी स्टोरीमेकर से सृजित कर €1,000 की प्रतियोगिता मे हिस्सा लें। www.storymaker.cc पर अपलोड की गई कहानी स्वतः प्रतियोगिता मे भाग लेती है। हम...

14 अप्रील 2009

आम चुनावों में लगी जनता की पैनी नज़र

हम जिस युग में रह रहे हैं वहाँ जानकारियों का अतिभार है। ज्यों ज्यों नवीन मीडिया औजार ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच बना रहे...